0

अब छोड़ दिया है….

अब छोड़ दिया है “इश्क़” का “स्कूल” हमने भी,

हमसे अब “मोहब्बत” की “फीस” अदा नही होती….!!

 

Ab chhod diya hai “ishq” ka “school” hamne bhee,

Humse ab “mohabbat” kee “fees” adaa nahee hotee….!!

0

आज अजीब किस्सा देखा…..

आज अजीब किस्सा देखा, 

हमने खुदखुशी का….!

एक शख्स ने जिंदगी से तंग आकर, 

मोहब्बत कर ली….!!  

 

Aaj ajib kissa dekha, 

Hame khudkhushi ka….! 

Ek shaksh ne jindagi se tang aakar, 

Mohbbat kar li….!!

 

 

0

आखिर कह ही डाला ….

आखिर कह ही डाला उसने एक दिन, 

इस कद्र टूटे हो बिखर क्यों नहीं जाते…..!

कब तक जिओगे ये दर्द भरी जिंदगी, 

किसी रात खामोशी से मर क्यों नहीं जाते…..!! 

 

Aakhir kaha hi dala usne ek din,

Is kadr tute ho bikhar kyo nahi jate…..!

Kab tak jiooge ye dard bahri jindagi,

Kisi raat khamoshi se mar kyo nahi jate……!!  

 

0

उल्फत का यह दस्तूर….

उल्फत का यह दस्तूर होता हें,

जिसे चाहो वाही हमसे दूर होता है, 

दिल टूट कर बिखरता हे इस कद्र,

जैसे …..

कांच का खिलौना गिरके चूर चूर होता हैं…..!!  

 

Ulfat ka yah dastur hota he, 

Jise chaho vahi hamse dur hota he,

Dil tut kar bikhrata he is kadr,

Jeise….

Kanch ka khilona girke chur chur hota he….!! 

0

खामोशियाँ से बिखरना आ…..

खामोशियाँ से बिखरना आ गया हे,

हमें आब खुद उजाड़ना आ गया हे,

किसी को बेवफा कहते नहीं हम,

हमें भी आब बदलना आ गया हे…..!!

 

Khamoshi se bikharna aa gaya he,

Hame aab khud ujadana aa gaya he,

Kisi ko bevafa kahte nahi ham,

Hame bhi aab badalana aa gaya he….!!

0

धोखा मिला जब प्यार…..

धोखा मिला जब प्यार में,

ज़िंदगी में उदासी छा गयी,

सोचा था छोड़ दें इस राह को,

कम्बख़त मोहल्ले में दूसरी आ गयी…..!!

 

Dhoka mila jab pyar me, 

Jindagi me udasi cha gayi,

Socha tha chod de is raha ko, 

Kambhakt mohale me dusari aa gayi….!! 

0

मौहब्बत का बादल बना…..

मौहब्बत का बादल बना देता तो अच्छा होता,

मुझे तेरी आँखो का काजल बना देता तो अच्छा होता…!

तुझे पाने की ख्वाईश अब जीने नही देती,

ऐ खुदा तू मुझे पागल बना देता तो अच्छा होता….!!

 

Mohabbat ka badal bana dete to aacha hota, 

mujhe teri aankho ka kajal bana dete to aacha hota….!

Tujhe pane ki khawhish ab jine nahi deti,

E khuda ti mujhe pagal bana deta to aacha hota…..!!