0

एक दीपक उनका भी….

एक दीपक उनका भी रखना अपनी,

पूजा की थाली में….!

जिनकी साँसें थम गयी भारतमाता की,

रखवाली में……!!

जय हिन्द….!!

 

Ek dipak unka bhi rakhna apni, 

Puja ki thali me….!

Jinki sanse tham gayi bharat mata ki,

Rakhwali me….!!

Jay Hind…!!

0

किसी गजरे की खुशबु को महकता…

किसी गजरे की खुशबु को महकता छोड़ के

आया हूँ….

मेरी नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़

के आया हूँ….

मुझे छाती से अपनी तू लगा लेना ऐ भारत माँ,

में अपनी माँ की बाहों को तरसता छोड़ आया हूँ….!!

0

मैं मर जाऊँ तो सिर्फ मेरी इतनी पहचान लिख देना

मैं मर जाऊँ तो सिर्फ मेरी इतनी पहचान लिख देना,

मेरे खून से मेरे माथे पर “जन्मस्थान ” लिख देना,

कोई पूछे तुमसे स्वर्ग के बारे में तो एक कागज के टुकड़े में “हिदुस्तान” लिख देना,

ना दौलत पर गर्व करते है,

ना शोहरत पर गर्व करते है,

किया भगवान ने हिदुस्तान मै पैदा,

इसलिये अपनी किस्मत पर गर्व करते है!!…… ॥जय हिंद॥